img

नागपुर। 

उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने कहा है कि सरकार को कृषि और किसानों पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है और खेती करने वालों के मसलों पर वैधानिक समितियों व मीडिया में विस्तृत चर्चा होनी चाहिए. इस दौरान उन्होंने अपने बारे में भी बात की. जिसमें उन्होंने कहा कि वे खुद एक किसान हैं और उन्हें इस बात पर गर्व है.

उन्होंने कहा कि गांवों और कृषि पर विशेष ध्यान देना चाहिए. उपराष्ट्रपति ने देश में कृषि उत्पादों के आवागमन के प्रतिबंधों को हटाने का भी सुझाव दिया .

नायडू यहां खेती पर आयोजित एग्रोविजन नामक एक सम्मेलन के उद्घाटन के बाद बोल रहे थे .

जनसंख्या नियंत्रण में धर्म को आगे लाना दुर्भाग्यपूर्ण है : उपराष्ट्रपति

उन्होंने कहा, ‘‘मैं स्वयं एक किसान हूं और मुझे इस बात का गर्व है कि किसान देश के अन्नदाता हैं . भारत की मूल संस्कृति कृषि है और यह सरकार की जिम्मेदारी है कि वह किसानों की चिंता को देखे.’’