img

 

नई दिल्ली। 

शिवसेना प्रमुख बाला साहेब ठाकरे (Balasaheb Thackeray) की जिंदगी पर बनी फिल्म 'ठाकरे' (Thackeray) आज रिलीज हो गई। इस फिल्म में नवाजुद्दीन सिद्दीकी (Nawazuddin Siddiqui) बाला साहेब की भूमिका निभा रहे हैं।
दूसरी तरफ रानी लक्ष्मी बाई पर बनी फिल्म 'मणिकर्णिका' (Manikarnika: The Queen of Jhansi) भी आज रिलीज हुई है। इस फिल्म में कंगना रनौत (Kangana Ranaut) लीड रोल में हैं। महाराष्ट्र (Maharashtra) में दोनों फिल्में एक साथ रिलीज होने से हंगामा हो गया। यह विवाद इतना बढ़ गया कि फिल्म के एक शो को भी बंद करना पड़ा।

मुंबई में वाशी के आईनॉक्स सिनेमा हॉल के बाहर शिवसेना के कार्यकर्ताओं ने हंगामा शुरू कर दिया। इस दौरान सुबह के शो को भी रोक दिया गया। कार्यकर्ताओं ने आरोप लगाया कि जब बाकी दूसरी फिल्मों के पोस्टर लगाए गए तो 'ठाकरे' के पोस्टर क्यों नहीं लगाए?

ठाकरे

 
Embedded video
Kirandeep@raydeep
 
 

And this is  for you. Shiv sainiks create ruckus in Vashi's INOX cinema - They demand posters of  film be put. Already they have stopped screening of first show.

 

इसके साथ ही शिवसेना कार्यकर्ताओं ने 'मणिकर्णिका' देखने आए लोगों के साथ मारपीट की और उन्हें भगा दिया। शिवसैनिको का आरोप है की जानबूझकर सिनेमा मालिक 'मणिकर्णिका' को ज्यादा तवज्जो दे रहे हैं। 

Manikarnika

महाराष्ट्र के कई हिस्सों में बाला साहेब ठाकरे की बायोपिक ‘ठाकरे’ का फ्री शो दिखाया जा रहा है। दहिसर के एक सिनेमाघर में सुबह 10 बजे और शाम 4 बजे के शो को फ्री कर दिया गया। वहीं वसई में भी सुबह 8 बजे का शो फ्री में दिखाने के लिए सिनेमा हॉल के बाहर प्रदर्शन किया गया।

Manikarnika and Thackeray

इससे पहले फिल्म 'ठाकरे' को सुबह 4 बजे देखने मुंबई के एक सिनेमाघरों में पहुंचे लोग वहां खुद 'बाल ठाकरे' को देख चौंक गए। सिनेमाघरों की एक बड़ी चेन ने मुंबई में ठाकरे फिल्म को लेकर सिनेथॉन रखा है।