img

Breaking News

 

नई दिल्ली।

भारतीय क्रिकेट टीम जब रांची के जेएसीएस स्टेडियम में आस्ट्रेलिया के खिलाफ उतरी तो उससे पहले सभी खिलाड़ियों ने 'स्पेशल कैप' पहनीं। यानि की आर्मी कैप। विकेटकीपर महेंद्र सिंह धोनी ने मैच शुरू होने से पहले सभी खिलाड़ियों को आर्मी कैप भेंट की। ऐसा पुलवामा आतंकी हमले में हुए सीआरपीएफ के 40 जवानों की शहादत को याद करते हुए किया गया। यह भी पढ़ें- IPL 2019: मेरा नाम...कोहली बोले- नेम छोड़ गेम दिखा, देखें मजेदार वीडियो वहीं टाॅस के दाैरान भी कोहली आर्मी कैप पहने हुए थे। भारत ने टाॅस जीता और पहले गेंदबाजी करने का फैसला लिया। टॉस के वक्त कोहली ने बताया कि टीम इस मैच की फीस भी नैशनल डिफेंस फंड में डोनेट करने वाली है। इसके साथ ही उन्होंने पुलवामा हमले में शहीद हुए सैनिकों को याद किया और लोगों से उनके परिवारों की मदद की गुहार लगाई। कोहली ने कहा कि यह एक विशेष कैप है। यह सशस्त्र बलों के लिए एक श्रद्धांजलि है। भारतीय सेना के पराक्रम, बलिदान और साहस का सम्मान करते हुए बीसीसीआई ने यह कदम उठाया है। इतना ही नहीं ऑस्ट्रेलिया के 'पिंक टेस्ट' और साउथ अफ्रीका के 'पिंक वनडे' के तर्ज पर अब टीम इंडिया हर साल एक मैच इस टोपी के साथ खेला करेगी। सूत्रों के अनुसार यह सुझाव बीसीसीआई को महेंद्र सिंह धोनी और कप्तान विराट कोहली द्वारा ही दिया गया था। बता दें कि धोनी प्रादेशिक सेना में लेफ्टिनेंट कर्नल भी हैं। इसकी शुरुआत तीसरे वनडे मैच से हो रही है जो आगे भी जारी रहेगी। हर सीजन में भारतीय ग्राउंड पर होने वाले किसी एक मैच में टीम आर्मी कैप को पहनकर खेलेगी।