img

 

मथुरा। 

लोकसभा चुनाव 2019 में भगवान कृष्ण की नगरी मथुरा से एक बार फिर लोकसभा का चुनाव जीतने को लेकर आश्वस्त सांसद हेमा मालिनी की मुस्लिमों के प्रति राय केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी से अलग है। हेमा मालिनी का मानना है कि हमको सभी के लिए काम करना चाहिए।

मथुरा से भाजपा की सांसद हेमा मालिनी ने कहा कि तीन तलाक के मुद्दे पर हमको बड़ी संख्या में मुस्लिम महिलाओं ने समर्थन दिया है। भाजपा उनके लिए काफी बड़ी योजना पर भी काम कर रही है। यदि फिर भी वे हमें अपना समर्थन नहीं देते हैं तो भी हमें हर किसी की मदद करनी चाहिए। यह मायने नहीं रखता कि किसने हमारे पक्ष में मतदान किया और किसने नहीं। मेनका गांधी के बयान पर उन्होंने कहा कि हर किसी की सोच अलग होती है और ऐसी कोई भावना उनके भीतर नहीं आती।

 मथुरा से एक बार फिर अपनी जीत को लेकर पूरी तरह आश्वस्त हेमा ने कहा कि मैंने क्षेत्र में बहुत से अच्छे काम किए हैं, मेरी सरकार ने अच्छा काम किया है। आज पूरी व्यवस्था बदल रही है, लोग विकास चाहते हैं, जातिगत राजनीति अब नहीं चलने वाली। मुझे भरोसा है कि लोग हमारा समर्थन करेंगे। 

मथुरा से सासंद तथा एक बार फिर भाजपा उम्मीदवार हेमा मालिनी अपनी जीत को लेकर बेहद आश्वस्त हैं। उनका कहना है कि उन्होंने जो अच्छे काम अपने संसदीय क्षेत्र में किए हैं, उसकी बदौलत उन्हें एक बार फिर जीत मिलेगी।

मेनका ने सुल्तानपुर में एक जनसभा के दौरान कहा था कि हम महात्मा गांधी की संतान नहीं हैं कि हम बस चीजें देते रहें और बदले में हमें कुछ नहीं मिले। उनका इशारा मुस्लिम मतदाताओं की ओर था, जिनके बारे में माना जाता है कि वह लोग भाजपा को वोट नहीं देते। मेनका के बयान को धार्मिक भावनाएं भड़काने वाला करार देते हुए कांग्रेस ने निर्वाचन आयोग से शिकायत की, जिस पर उनसे तीन दिन के भीतर जवाब मांगा गया है।